Select Page
Sold out!

Bhokal Vikanda

100.00

अद्वितीय शक्ति वाले एक प्रदणि ने ठानी है विश्व की साड़ी दौलत लूटने की उसका नाम है ” विकंडा ” ।

भोकाल और साथियो को कैद कर लेता है विकंडा अपने जादुई ग्लोब में ।

कैसे निकलेगा भोकाल इस कैद से जानने के लिए पढ़े भोकाल विकंडा।

Comics is in good condition

Comics is in readable condition 

 

Sold out!

SKU: ACTBh400 Category: Tags: ,

Description

Vikanda is a robber who has unmatched power and mystical powers.

He along with his team plan to rob the treasure of Raja Vikas Mohan.

Bhokal,Shukan and Atichoor are sent for to keep a guard on the treasure.

But,all are trapped by Vikanda in the magical globe.

How will Bhokal and his mates find their way out of this trap of Vikanda.

Buy and Read Comics to know more..

इधर विकास नगर में राजा विकास मोहन ने लगाई है एक विशाल प्रदर्शनी जिसमे रखे है कई अनमोल रतन ।

वो सब निहार रहे है एक रतन को जो था श्री राम चंद्र जी के मुकुट का हिस्सा ।

विष्णु भगवन की मोतियों की माला का मोती तभी गायब हो जाता है रावण का कर्णफूल ।

और , फिर रतन जड़ित सोने की मयान ।

सब चोरी होने लगता है ।

महाराज भूलते है भोकाल , शूतान और अतिक्रूर को और सौप देते है प्रदर्शनी की सुरक्षा उनके हाथो में ।परन्तु चोरी रुकने का नाम नहीं लेती ।

Additional information

Weight36 g

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Bhokal Vikanda”

Vendor Information

  • 5.00 rating from 5 reviews